Politics

लोकसभा में सांसद हंस राज हंस ने भलस्वा झील के समाप्त होते अस्तित्व को बचाने की गुजारिश

Spread the love

 

नई दिल्ली, 31 जुलाई 2019, उत्तर-पश्चिम दिल्ली सांसद पद्मश्री हंस राज हंस ने आज लोकसभा में अपने संसदीय क्षेत्र बादली विधानसभा के अंतर्गत स्थित भलस्वा झील की साफ़-सफाई का मुद्दा उठाया|

श्री हंस राज हंस ने कहा कि “भलस्वा झील जो कई वर्षों से बदहाली से गुजर रही है जिसे मोती झील के नाम से भी जाना जाता है | झील के चारो ओर गन्दगी और खर-पतवार उग आये है और झील के बीचो-बीच जहाँ पहले साफ़-सुथरा पानी हुआ करता था, यहाँ देसी और विदेशी पक्षी मौसम के अनुरूप आया करते थे, यात्रियों और पर्यटकों का तो ताँता लगा रहता था लेकिन आज वहां पर लम्बी-लम्बी घास और झाड़ियाँ उग आयीं हैं, झील के सूखने के कारण अब कुछ ही स्थानों पर पानी दिखाई देता है लेकिन प्रशासनिक अनदेखी के कारण इस झील का अस्तित्व समाप्त होता दिखाई देता है और झील समय के साथ गायब हो रही है | तटबंध निर्माण करने के कारण इसे यमुना से भी काट दिया गया है मानसून की बारिश के अलावा यमुना नदी का पानी ही मुख्य श्रोत था जो कि अब वह भी नही मिल पा रहा है | न तो अब इस झील की साफ़-सफाई हो पा रही है और न ही कोई इसके देख-रेख के लिए आगे आ रहा है | मेरा केंद्र सरकार से अनुरोध है कि इस झील को बचाया जाए यही मेरी गुजारिश है” |

Related Articles

Close