bloggedBusinessEntertainmentexploreLifestyle

यामाहा म्यूजिक इंडिया ने लॉन्च किया पहला इंडियन की-बोर्ड

Spread the love

अनिल बेदाग—

मुंबई : यामाहा म्यूजिक इंडिया ने ‘मेक इन इंडिया’ पहल के तहत अपना पहला भारतीय की—बोर्ड पीएसआर I500 मुंबई में लॉन्च किया है। यह नया मॉडल उन वैश्विक संगीत प्रेमियों के लिए एक आदर्श और पोर्टेबल की—बोर्ड है, जिन्हें सीखने के साथ ही प्रदर्शन करना पसंद है। इस उपकरण में ऑन-बोर्ड भारतीय वाद्ययंत्रों की धुनें और ऑटो संगत शैली के कार्यों का एक विशाल संग्रह होने के साथ ही देश के हर कोने से भारतीय संगीत शैलियों का व्यापक समावेश है।
इस पीएसआर I500 में 801 वाद्ययंत्र धुन हैं, जिनमें से 40 भारतीय वाद्ययंत्रों के हैं। की—बोर्ड में विभिन्न प्रकार के वाद्ययंत्रों जैसे पियानो से सिंथेसाइजर तक के उपकरणों का समावेश है, जो ऑर्केस्ट्रा क्लासिक्स से लेकर इलेक्ट्रॉनिक नृत्य संगीत तक के विभिन्न प्रकार की शैलियों से गीतों को संभव बनाता है। इतना ही नहीं, यह उपकरण संगीत प्रेमियों के लिए एक आदर्श पोर्टेबल की-बोर्ड है। इस की—बोर्ड में “क्विक सैम्पलिंग” जैसे कुछ फंक्शन भी शामिल किए गए हैं, जो विभिन्न स्थितियों में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए आपकी सहायता हेतु डिजाइन किए गए हैं। इसके अलावा, पीएसआर I500 में तबला/मृदंगम और तानपुरा फंक्शन, जिसे रियाज़ कहा जाता है, पहले से ही शामिल हैं, जिससे आपको गाना बजाना सीखने के साथ ही पारंपरिक भारतीय “राग” की भी जानकारी मिलती है।
यामाहा म्यूज़िक इंडिया के प्रबंध निदेशक तकाशी हागा ने कहा कि यामाहा म्यूजिक इंडिया को भारत में चेन्नई स्थित अपनी विनिर्माण इकाई में निर्मित की-बोर्ड को प्रस्तुत करने पर गर्व महसूस हो रहा है। साथ ही कहा कि मेक इन इंडिया पहल के तहत हमने भारतीय और वैश्विक संगीत प्रेमियों के लिए अब तक का सबसे बहुमुखी और अनुकूलित पोर्टेबल की-बोर्ड तैयार किया है। उन्होंने कहा कि भारत विविधताओं का देश है और यह नया की—बोर्ड अपने सभी विवेकी और समझदार ग्राहकों की जरुरतों को पूरा करेगा। श्री हागा ने कहा कि यामाहा म्यूजिक इंडिया भारतीय बाज़ार के लिए न केवल अपने उपकरणों का उत्पादन करेगा, बल्कि भारत को अपना प्रमुख निर्यात केंद्र भी बनाएगा।

Related Articles

Close