EntertainmentMovi

मानवता के प्रति प्रेम की उदारता दिखाती है ‘नक्काश

Spread the love
अनिल बेदाग— 
मुंबई : निर्देशक जैगम इमाम की फ़िल्मों ने हमेशा ऐसे मुद्दों को उठाया है, जो दिल को छूते हैं। किसी वर्ग को ऐसे विषय विवादास्पद लगते हैं, तो कोई जैगम के नजरिये को जायज़ ठहराता है। फ़िल्म नक्काश भी ऐसी ही संवेदनशील फ़िल्म है जिसके ट्रेलर में दर्शकों को विवाद की गुंजाइश नज़र आ रही है लेकिन निर्देशक जैगम का कहना है कि मुस्लिम होने के नाते मैं यह बताना चाहता हूं कि मैंने कभी भी धार्मिक भेदभाव महसूस नहीं किया है। फिल्म नक्काश मानवता के प्रति प्रेम की विशिष्टता और उसकी उदारता  को परिभाषित करती हैं। निर्देशक कहते हैं कि मैंने अपनी फ़िल्मो में हिन्दू मुस्लिम जैसे विषय अपनी बात को एकदम वास्तविक तौर पर दिखाया है। एक मुस्लिम धर्म से जुड़े होने के नाते मैं इस मंच से यह कहना चाहता हूँ कि यह देश मेरा उतना ही अपना है जितना किसी भी अन्य धर्म के व्यक्ति के लिए है और मैंने कभी भी धार्मिक भेदभाव महसूस नहीं किया है। एबी इन्फोसॉफ़्ट क्रिऐशन,जलसा पिक्चर्स और पदमजा प्रॉडक्शन के सयुंक्त बैनर तले निर्मित फ़िल्म नक़्क़ाश के ट्रेलर लॉन्च में अभिनेता इनामुलहक़, शारिब हाशमी, पवन तिवारी, गोविन्द गोयल, हरमिंदर सिंह, निर्देशक ज़ैग़म इमाम, संगीतकार अमन पंत, एडिटर प्रकाश झा, पियूष सिंह और विशेष अतिथि के तौर पर निर्देशक तिग्मांशु धुलिया उपस्थित थे।

Related Articles

Close